पथरी के रोग में बीयर पीने का चलन बहुत गलत हरकत होती है ये

0
292

पथरी के रोग में बीयर पीने का चलन बहुत गलत हरकत होती है ये

पथरी के रोग में बीयर
पथरी के रोग में बीयर

पता नही कहॉ से यह भ्रांति चल निकली है कि यदि गुर्दे और मूत्र मार्ग की पथरी हो गयी है तो बीयर पीने से निकल जाती है । बहुत से लोग इस बात को सुनकर पथरी हो जाने पर बीयर पीना शुरू कर देते हैं । आज हम इस बात के बारे में आपको जानकारी दे रअहे हैं कि यह हरकत कितनी गलत है और यहॉ तक कि आपके लिए जानलेवा भी हो सकती है । सबसे पहले जानते हैं गुर्दे की पथरी के रोग में बीयर पीने से आखिर होता क्या है ।

 

पथरी के रोग में बीयर पीने वालो को क्या हो सकता है नुक्सान :-

बीयर पीने का सबसे पहला नुक्सान तो यह होता है कि इससे गुर्दों को अपनी क्षमता से ज्यादा कार्य करना पड़ता है जिसके कारण उन पर दबाव पड़ता है और गुर्दे स्थायी रूप से डैमेज हो सकते हैं । पथरी को निकालने के लिए क्षारीय प्रकृति चीजों का सेवन करने को तरजीह दी जाती है लेकिन इसके ठीक उलट एल्कोहल शरीर में जाकर अम्लीय रिएक्शन देता है जो कि समस्या को बढ़ाने वाला ही होता है । ज्यादा मात्रा में पेशाब जाने से शरीर में पानी की कमी हो जाती है और गम्भीर डिहाइड्रेशन के लक्षण पैदा होने लगते हैं ।

पथरी के रोग में बीयर पीने से बढ़ जायेगा ऑक्जेलेट का स्तर :-

ऑक्जेलेट एक विशेष तरह के क्रिस्टल होते हैं जो ऑक्जेलिक एसिड की क्रियाओं से उत्पन्न होते हैं और गुर्दे की पथरी पैदा करने में इनका बहुत योगदान होता है । बीयर के सेवन से शरीर में ऑक्जेलेट का निर्माण अधिक मात्रा में होने लगता है जिस कारण से हो सकता है कि अभी तो आपकि पथरी निकल जाये लेकिन आगे चलकर और अदिक मात्रा में आपको पथरियॉ बनने लगेंगी ।

पथरी के रोग में बीयर पीने का प्रभाव :-

बीयर या कोई भी अन्य एल्कोहल पीने से मूत्र निर्माण की प्रक्रिया बढ़ जाती है, जिस कारण आपको बार बार पेशाब करने के लिए जाना पड़ता है । अधिकतर लोग इस तथ्य के आधार पर ही बीयर का सेवन गुर्दे की पथरी के रोग में करना शुरू कर देते हैं । ज्यादा पेशाब लाने के लिए ज्यादा मात्रा में पानी भी पिया जा सकता है । ज्यादा पानी पीने से भी बीयर के समान ही ज्यादा मात्रा में पेशाब आने लगता है यह एक स्वाभाविक और प्राकृतिक नियम है । आगे हम जानेंगे कि गुर्दे के रोग में बीयर पीने से क्या क्या नुक्सान हैं ।

पथरी के रोग में बीयर पीने से गुर्दे हो सकते हैं फेल :-

एल्कोहल के सेवन से गुर्दों के ऊपर स्थायी रूप से नकारात्मक प्रभाव पड़ते ही हैं इस बात को सब समझते भी हैं । जब गुर्दे की पथरी की समस्या होती है तो बहुत से लोग इसको बीयर पीने का परमिट समझ कर बहुत अधिक मात्रा में बीयर पीना शुरू कर देते हैं । पथरी के कारण पहले से ही परेशान गुर्दे ज्यादा एल्कोहल की मात्रा अचानक आने के कारण फेल भी हो सकते हैं । हाँलाकि ये जरूरी नही है कि ऐसा सबके साथ ही होता है, लेकिन इस बात की भी तो कोई गारण्टी नही होती कि आपके साथ ऐसा नही होगा ।
जानकारी आपको कैसी लगी हमको जरूर बताइयेगा । सेहत से जुड़े लाभकारी लेख आपके लिए हम रोज लेकर आते हैं । हमारे लेख रोज पढ़ने के लिए हमको फॉलो जरूर कीजियेगा । किसी खास विषय पर आप जानकारी चाहते हैं तो कमेण्ट करके हमें जरूर बताना ।
पथरी के रोग में बीयर पीने से होने वाले नुक्सान की जानकारी वाला यह लेख आपको अच्छा और लाभकारी लगा हो तो कृपया लाईक और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से ही किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँचती है और हमको भी आपके लिए और बेहतर लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है । इस लेख के समबन्ध में आपके कुछ सुझाव हों तो कृपया कमेण्ट के माध्यम से हमको जरूर सूचित करें ।