दो स्त्रियों के बारे

0
290

पिछले कुछ समय से दो स्त्रियों के बारे में जानने को मेरी उत्सुकता काफी बढ़ गयी है …. एक है पोर्न स्टार सनी लियोनी दूजी दक्षिण भारतीय वामपन्थी अभिनेत्री गिलु जोसेफ ….

कल रात को मैंने मोबाइल में नेट डाटा ऑन करते ही गूगल पे जा के दोनों हस्तियों के नाम टाइप किये …. दोनों के कुछ अर्द्ध और पूर्ण नग्न चित्र और विकिपीडिया मेरी स्क्रीन पर आता है ….

ठीक उसी वक़्त मुझे हृदयघात (हार्ट अटैक) होता है और मेरी तत्काल मौत हो जाती है …. पत्नी बच्चे नाते रिश्तेदार मित्र देखते हैं कि मेरी मौत के वक़्त मैं सनी लियोनी और गिलु जोसेफ के चित्र देख रहा था और उनको पढ़ रहा था ……………… और मेरी मौत के 10-20-50 साल बाद एक थ्योरी आती है कि मेरे आदर्श सनी लियोनी और गिलु जोसेफ थे मैं अंतिम वक़्त उनको देख/पढ़ रहा था …. एक झूठ को हज़ार वार बोलो तो वो सच बन जाता है …. जबकि मेरी वास्तविक विचारधारा क्या है उससे आप सब परिचित हो ….

अप्रैल 1971 में तत्कालीन पीएम इंदिरा ने अपने तत्कालीन सेनानायक सेम मानेक शॉ को आदेश दिया कि …. आप अभी इसी वक्त पाकिस्तान पे हमला करिए ………… सेम मानेक शॉ ने प्रत्तिउत्तर दिया …. मैडम आई नीड सम टाइम …. मुझे तैयारी के लिए कुछ समय दीजिये हम हमला सितंबर अक्टूम्बर में करेंगे ……………… हालांकि उस वक़्त घाटी में बर्फ़बारी का दौर होता है और हमला करना मुश्किल होता है घुसपैठ की वारदातें भी बढ़ जाती है ….

सेम मानेक शॉ ने असम्भव को सम्भव कर दिखाया …. पाकिस्तान के दो टुकड़े कर के अलग बांग्लादेश का निर्माण कर दिया …. 93 हज़ार पाकिस्तानी सैनिकों को बंदी बना लिया …. ये विश्व सैन्य इतिहास की सबसे बड़ी विक्ट्री का रिकॉर्ड है ….

मेरे आर्मी के अनेक मित्र मुझे बताते हैं …. ये बड़े बड़े कर्नल जर्नल कमांडर रैंक के अफसर हमारे साथ मोर्चे पे युद्ध लड़ने नहीं जाते हैं …. ये लोग सिर्फ अध्ययन करते हैं दिन में 12 से 14 घण्टे अध्ययन …. महाभारत गीता शिवाजी गुरु-गोविंद-सिंह महाराणा-प्रताप महाराणा-सांगा बाजीराव से ले के नेपोलियन हिटलर सद्दाम तक की युद्ध-नीति युद्ध-कौशल का अध्ययन …. वैश्विक इतिहास के तमाम युद्धों का अध्ययन …. तमाम बेहतरीन योद्गाओं सेनानायकों तानाशाहों रणनीतिकारों कूटनीतिकारों की जीवनी और युद्ध-नीतियों युद्ध-कौशल रण-नीतियों का अध्ययन …. उसी अध्ययन के आधार पे वो हमारी सेना की युद्ध-कूट-रण-नीति का ख़ाका बनाते हैं …. उसी नीति पे चल के हम दुश्मन को माकूल जवाब देते हैं ….

सेम मानेक शॉ ने भी अपने अनुभव और अध्ययन के आधार पे शानदार रणनीति बनाई और इंदिरा गांधी से कुछ समय की मोहलत ले के फिर पाकिस्तान पे हमला किया …. अंजाम क्या हुआ पूरी दुनियां वाकिफ है ….

विज्ञान की जिसमें रुचि या जिज्ञासा हो वो विज्ञान पढ़ेगा …. गणित अर्थशास्त्र इतिहास व्यापार सांख्यिकी टैक्सेशन एकाउंट्स मैनेजमेंट लॉ पॉलिटिक्स सैंकड़ो विषय है …. जिन पाठकों की जिस विषय में रुचि एवं जिज्ञासा होती है …. पाठक उस विषय को पढ़ते हैं ….

…………………. भगत सिंह एक क्रांतिकारी थे ….

इसका ये मतलब नहीं कि भगत सिंह ने अपने जीवन मे एक ही क्रांतिकारी (लेनिन) को अपना आदर्श माना …. या भगत सिंह ने अपने जीवन में एक ही क्रांतिकारी (लेनिन) को पढा …. भगत सिंह एक क्रांतिकारी थे इसलिए उन्होंने अनेक क्रांतिकारियों को पढ़ा …. क्रांति की अनेक घटनाओं को पढ़ा ……………. ये महज़ एक संयोग है कि अपनी फांसी से पूर्व भगत सिंह लेनिन को पढ़ रहे थे …. एक अध्याय या 4 पृष्ठ भी पूरे पढ़ने से पहले भगत सिंह को फांसी हो गयी ….

……………………. तो लेनिन भगत सिंह के आदर्श कैसे हुए ?? ….

भगत सिंह लेनिन से प्रभावित कैसे हुए ?? ….

भगत सिंह लेनिन जैसे कैसे हुए ?? ….

भगत सिंह की तुलना लेनिन से क्यों ?? ….

……………………………. अब आप इसी पोस्ट की ऊपर की 10 लाइन्स दुबारा पढ़िए …. फिर नीचे वापिस यहां से पढ़ना शुरू कीजिए ….

मेरी मौत के वक़्त मैं सनी लियोनी और गिलु जोसेफ़ को पढ़ रहा था …. इसका कतई ये मतलब नहीं कि ये दोनों मोहतरमा सनी लियोनी और गिलु जोसेफ़ मेरी आदर्श है …. या मैं इनसे प्रभावित हूँ …………….. मैंने तो मीरा कर्मा पन्नाधाय पद्मावती हाड़ा रानी को भी पढ़ा है ….

हाँ ये एक संयोग है कि मेरी मौत के वक़्त मैंने सनी और गिलु को पढ़ना शुरू किया था ….

नेशन वांट्स टू क्नॉव ….

जवाब दो कॉमरेड ….

भगत सिंह की तुलना लेनिन से क्यों ?? ….

 रितेश प्रज्ञांश…